watermelon tarbooj ki kheti kaise karen

watermelon tarbooj modern kheti

तरबूज की खेती कैसे करें ?     Add whatsapp Number 9814388969

तरबूज एक गर्मी का फल है। जो गर्म और मध्य गर्म इलाकों मैं उगाया जाता है। इसको ज्यादा गर्मी का और खुश्क समय चाहिए ये फसल कोहरा सेहन नहीं करती। ज्यादा नमी मैं इसको कीड़े और बीमारी ज्यादा लगती है। इसकी फसल 35 se 40 डिग्री तापमान सेहन कर सकता है।

बीज को पैदा होने के लिए अठारह से पचीस डिग्री तापमान होना चाहिए। तरबूज की पैदाइश के लिए रेतली मेरा ज़मीन होनी चाहिए। इसके लिए छह से सात पी एच की जमीन ठीक है और थोड़ी नमक वाली ज़मीन भी ठीक रहती है।

तरबूज की उन्नत किस्मे :-

शुगर बेबी :- ये बीज एक से डेढ़ किलो काफी है। जिस किस्म का बीज मोटा होता है उसके दो किलो बीज एक एकर मैं डालना चाहिए। इस बीज की पैदावार 70 क्वेंटल / एकर होती है।

तरबूज की बिजाई के ढंग :-

जिस किसम का बीज बारीक होता है। वो बीज एक से डेढ़ किलो काफी है। जिस किस्म का बीज मोटा होता है उसके दो किलो बीज एक एकर मैं डालना चाहिए।

बिजाई का समय :-

मध्य जावरी से मार्च

नवंबर से दसंबर (गर्म इलाको में ) छाव करके

फासला :-शुगर beby के लिए ढाई से तीन मीटर चौड़ाई की बेड़ों पे बीज लगाये और बीज से बीज का फासला साठ सेंटीमीटर रखें।

खाद :- आठ से दस टन गोबर की खाद डालें। पचपन किलो यूरिया और सोलह किलो फ़ॉस्फ़ोरस डालें। और पन्द्र किलो पोटास डालें।

सिंचाई :- पहले नौ से बारह दिन बाद सिंचाई करें बाद मैं सात से नौ दिन बाद सिंचाई करें इसको टोटल साथ से दस बार सिंचाई करनी चाहिए

तुड़वाई :- इसकी फसल किसम के हिसाब से बिजाई के बाद 95 to 120 दिन बाद तुड़वाई के लिए तैयार हो जाती है .

 

Related posts