Temprature for Crops Faslon Ke Liye Tapman

temprature for crops modern kheti

temprature for crops modern kheti

भारत में खाद्यान्न फसलों की अधिकता जायी जाती है । यहाँ कुल खेतिहर भूमि के लगभग 80 प्रतिशत भाग पर खाद्यान्न फसलें एवं केवल 20 प्रतिशत भाग पर व्यापारिक फसलें बोयी जाती हैं ।

 

महत्त्वपूर्ण फसलें – भौगोलिक परिस्थितियाँ एवं उत्पादन क्षेत्र

चावल (Rice)

तापमान – बोते समय 20℃  तथा पकते समय 27℃,

वर्षा – 100 से 200 सेण्टीमीटर

मिट्टी – उपजाऊ, चिकनी, कछारी अथवा दोमट

विधि – निचला धरातल तथा अधिक श्रमिकों की आवश्यकता होती है, हल के पीछेबोना, पौध लगाकर, बीज छिटककर एवं जापानी विधि.

उत्पादक राज्य- पश्चिम बंगाल, आन्ध्र प्रदेश, असम, बिहार, उड़ीसा, महाराष्ट्र, मध्य प्रदेश, तमिलनाडु, उत्तर प्रदेश, पंजाब, केरल हैं । इनके अतिरिक्त कश्मीर,हरियाणा तथा दक्षिणी-पूर्वी राजस्थान में भी चावल पैदा किया जाता है ।

 

गेहूँ (Wheat)

तापमान – बोते समय 10℃ से 15℃ तथा पकने के समय 20℃ से 28℃ सेण्टीग्रेड,

वर्षा – 50 सेमी. से 75 सेण्टीमीटर

मिट्टी – हल्की दोमट या गहरे रंग की मटियार मिट्टी

विधि – समतल धरातल तथा श्रमिक एवं मशीनें आवश्यक हैं ।

उत्पादक – उत्तर प्रदेश, पंजाब, हरियाणा, मध्यप्रदेश, गुजरात, महराष्ट्र, बिहार एवं राजस्थान आदि हैं।

 

मक्का (Maize)

तापमान – 25℃ से 30℃,

वर्षा – 50 से 100 सेण्टीमीटर

मिट्टी – उपजाऊ, गहरी दोमट मिट्टी

उत्पादक राज्य – उत्तर प्रदेश, पंजाब, हरियाणा, मध्य प्रदेश, आन्ध्र प्रदेश, बिहार, राजस्थान, जम्मू कश्मीर तथा हिमाचल प्रदेश ।

 

ज्वार  (Jowar)

तापमान – 25℃ से 30℃

वर्षा – 30 से 100 सेण्टीमीटर,

मिट्टी – लाल, पीली, हल्की और भारी दोमट तथा बलुई मिट्टी

उत्पादक राज्य – मध्य प्रदेश, महाराष्ट्र, गुजरात, आन्ध्र प्रदेश, कर्नाटक तथा राजस्थान हैं ।

 

बाजरा(Millet)

तापमान – 25℃ से 30℃

वर्षा – 50 सेण्टीमीटर से 75 सेण्टीमीटर वर्षा,

मिट्टी – हल्की बलुई मिट्टी,

उत्पादक राज्य – आन्ध्र प्रदेश, तमिलनाडु, गुजरात, पंजाब, उत्तर प्रदेश, कर्नाटक एवं राजस्थान ।

 

चना (Gram)

तापमान – 15℃ से 20℃

वर्षा – 50 से 75सेण्टीमीटर

मिट्टी – मटियार एवं मटियार दोमट

उत्पादक राज्य – गुजरात, महाराष्ट्र, मध्य प्रदेश, राजस्थान, बिहार, पंजाब एवं उत्तर प्रदेश आदि है ।

 

गन्ना (Sugercane)

तापमान – 20℃ से 35℃ ,

वर्षा – 100 से 1500 सेण्टीमीटर

मिट्टी – दोमट, नमीयुक्त लावा वाली काली मिट्टी,

उत्पादक राज्य – उत्तर प्रदेश, पंजाब, हरियाणा, तमिलनाडु, महाराष्ट्र, आन्ध्र प्रदेश, बिहार, पश्चिम बंगाल, कर्नाटक एवं मध्य प्रदेश हैं ।

 

कपास (Cotton)

तापमान – 20℃ से 30℃, स्वच्छ आकाश, तेज और चमकदार धूप,

वर्षा – 50 से 100 सेण्टीमीटर, वर्षा रुक-रुककर,मिट्टी – भारी काली, चिपचिपी काली एवं जलोढ़ मिट्टी,

उत्पादक राज्य – गुजरात, मध्य प्रदेश, तमिलनाडु, आन्ध्र प्रदेश, पंजाब,हरियाणा तथा राजस्थान आदि हैं ।

 

 

जूट(Jute)

 

तापमान – 20℃ से 30℃,

वर्षा – 150 से 200 सेण्टीमीटर,

मिट्टी – नदियों द्वारा लायी गयी जलोढ़ मिट्टी,

उत्पादक राज्य – पश्चिम बंगाल, बिहार, असम, मेघालय, उड़ीसा, उत्तर प्रदेश, त्रिपुरा के तराई भाग, आन्ध्र प्रदेश एवं मध्य प्रदेश आदि हैं ।

 

चाय (Tea)

 

तापमान – 25℃ से 30℃

वर्षा – 180 से 200 सेण्टीमीटर,

मिट्टी – गहरी, गन्धकयुक्त, उपजाऊ, मुलायम बलुई मिट्टी, ढ़ालू धरातल,

उत्पादक राज्य – असम, पश्चिम बंगाल, उत्तर प्रदेश, हिमाचल प्रदेश, बिहार, तमिलनाडु, केरल एवं कर्नाटक आदि हैं ।

 

कॉफी (Coffee)

 

तापमान – 15℃ से 18℃

वर्षा – 150 से 200 सेण्टीमीटर,

ऊँचाई – 900 से 1,600 मीटर की ऊँचाई,

मिट्टी – वनों की साफ की गयी, दोमट अथवा ज्वालामुखी मिट्टी,प्रकार – अरेबिका एवं रौबस्टा

उत्पादक राज्य – कर्नाटक, तमिलनाडु, केरल, महाराष्ट्र, उड़ीसा, पश्चिम बंगाल एवं आन्ध्र प्रदेश आदि हैं ।

 

रबर  (Rubber)

 

तापमान – 30℃ से 35℃ सेण्टीगे्रड,

वर्षा – 200 से300सेण्टीमीटर,

उत्पादक राज्य – केरल, तमिलनाडु, कर्नाटक एवं अण्डमान निकोबार ।

 

नारियल (Coconut)

 

तापमान – 20℃ से 25℃,

वर्षा – 150 सेण्टीमीटर, वर्षा रुक-रुककर,

उत्पादक राज्य – केरल, तमिलनाडु, कर्नाटक एवं अण्डमान निकोबार ।

 

मूँगफली(Groundnut)

 

तापमान – 15℃ से 25℃

वर्षा – 75 से 150 सेण्टीमीटर,

मिट्टी – काली मिट्टी और लाल मिट्टी

उत्पादक राज्य – महाराष्ट्र, गुजरात, कर्नाटक, आन्ध्र प्रदेश, मध्य प्रदेश एवं तमिलनाडु

 

मसाले (Spices)

तापमान – 20℃ से 25℃

वर्षा – 100 से 250 सेण्टीमीटर

 

प्रमुख मसाले(Spices)

 

(1) काली मिर्च – केरल और तमिलनाडु

(2) लाल मिर्च – आन्ध्र प्रदेश, कर्नाटक, तमिलनाडु, महाराष्ट्र, बिहार

(3) छोटी इलायची – केरल, कर्नाटक एवं तमिलनाडु

(4) लौंग – तमिलनाडु

(5) हल्दी – आन्ध्र प्रदेश एवं तमिलनाडु ।

Related posts

Join us For New Updates!

मॉडर्न खेती की नई  जानकारी लेने के लिए लाइक बटन दबाये

Share Post