shatavar ki kheti kaise karen ? ||asparagus farming ||शतावर की खेती कैसे करें ?

shatavar ki kheti kaise karen ? asparagus farming

shatavar ki kheti kaise karen ? ||asparagus farming ||शतावर की खेती कैसे करें ?

shatavar ki kheti kaise karen ? ||asparagus farming ||शतावर की खेती कैसे करें ?

शतावर की खेती कैसे करें ? whatsapp 9814388969
शतावर एक औषदीय खेती (मेडिकल फार्मिंग ) है / इसको आलू की तरह बेड बना के लगा सकते हैं।
पौधे से पौधे की दूरी एक फुट होनी चाहिए। इसमें जियादा रसायन नहीं डालने चाहिए। ये कुदरती खेती है। ये आयुर्वेदि जड़ी बूटीओं में काम आता है।
तैयारी :-
इसकी तैयारी करने के लिए आपको खेत अच्छे से बनाना होगा। और गोबर खाद पचास टन या ट्रीटेड गोबर खाद दो टन डालें। और आलू के खेती की तरह तैयारी करनी होगी। पौध की जड़ों को। अच्छे से ट्रीट करके लगाए। और लगाने के तुरंत बाद हल्का पानी दें।
पानी की सिंचाई :- सर्दिओं में पंद्रह से बीस दिन गर्मिओं में दस से पंद्रह दिन बाद सिंचाई करें।

निराई गुड़ाई :- खरपतवार को रोकने के लिए निराई गुड़ाई करें और बेड को अच्छे से मिटटी लगाएं। और थोड़ा बहुत खाद दे दें।
बीमारी:- इसको थोड़ा बहुत फफूंदी और कीट कभी कभी नुकसान कर सकता है उसके लिए आप खुद द्रव बना सकते हैं या आर्गेनिक ट्रीटमेंट कर सकतें हैं।


पैदावार :- इसकी एक एकर से ढाई टन यानि की 2500 किलो निकलती है। और मंडी भाव करीब चार सो से सात सो रुपये किलो बिकता है। ये डेढ़ साल यानि की अठारह महीने की फसल है।
अधिक जानकारी और पौध लेने के लिए। नीचे दिए व्हाट्सप्प नंबर पर कांटेक्ट कर सकते हैं।
हम और भी औषधीय फसलों की जानकारी टाइम टाइम पर शेयर करते रहते हैं
whatsapp number 9814388969

Related posts