Arhar ki kheti kaise karen hindi Tur Farming english

अरहर दाल की खेती कैसे करें ?

tur pulse arhar ki daal

Whatsapp 9814388969

अरहर दाल प्रोटीन भरपूर दाल है।  इसकी खेती मध्य अप्रैल से  लेकर मद्य मई तक होती है।

यह फसल  भारत के बहुत राज्य मैं होती  है।

खेत की तैयारी :-खेत्त को अच्छी तरह तैयार कर लें।

बीज की मात्रा :- मशीन के साथ छेह किलो और हाथ  से आठ किलो बीज एक  एकर  का डालना चाहिए।

अरहर को जियादा से जियादा दो बार  पानी  लगता है। ये  बहुत कम पानी की जगह पे भी हो जाती है।

अरहर मैं नदीन नाशक औषदि का इस्तेमाल करना चाहिए या गुड़ाई  करनी चाहिए।

अरहर की फसल में डी ए पी  और यूरिया का प्रयोग नहीं करना चाहिए

आठ महीने बाद नोवंबर दसमबर मैं  अरहर की पुताई करनी चाहिए। और महीने की धुप के बाद इसका दाना  निकलना चाहिए। फिर दाने को धुप लगा कर सुखा कर पैक करके मंडी में ले जाना चाहिए।

पैदावार :-अरहर  दाल एक एकर की आठ से नौ क्वीन्टल निकलती है।

Tur Pulse Farming

Tur pulse is full of protein.we can sow it from mid april to mid may.

For  this  we  have  to prepare the  farm with best cultivation.

Seed:- we need seed for sowing with machine 6 Kilogram for  one  acre . with sprinkle we  need 8 kilogram per  acre.

Tur needs max two  waters  in  all the season. It could give  best  results in sand  oriented field also .we  don’t  need DAP and  urea  for this crop. After  eight  months (November -december) we  could  cut  this  crop after  one  month  sunshine we  could  harvest  it  and can  pack  for  marketing .

Production :- We  could  get 8 to 9 Quental per acre .

Helpline Whatsapp 9814388969

Related posts

Join us For New Updates!

मॉडर्न खेती की नई  जानकारी लेने के लिए लाइक बटन दबाये

Share Post